सामान्य विज्ञान (General Science)

No comments exist

सामान्य विज्ञान (General Science)

सामान्य विज्ञान, जीव तथा जंतु का जनक अरस्तु को कहा जाता है|
जीव विज्ञान शब्द का प्रयो सर्वप्रथम लैमार्क एवं ट्रेवीरेनस ने किया|
जैव विकास को सर्वप्रथम लैमार्क ने समझाया था|
चिकित्सा शास्त्र का जनक हिप्पोक्रेटस ने किया था|
वनस्पति विज्ञान का जनक थियोफ्रेस्टस ने किया था|
रसायन विज्ञान का जनक लेविजियार ने किया था|
मानव का विकास, इतिहास, परंपराओं से संबंधित विषय एंथ्रोपोलॉजी कहलाता है|
गैस के विसरण के नियम का प्रतिपादक ग्राहम थे|
गेम का प्रतिपादन जॉन केपलर ने किया था|
जड़त्व के नियम की खोज गैलेलियो ने किया|
गुरुत्वाकर्षण के नियम के प्रतिपादक न्यूटन थे|
प्राकृतिक वरण सिद्धांत के प्रतिपादक डार्विन थे|
नेचुरल सिलेक्शन का सिद्धांत डार्विन ने दिया था|
अनुवांशिकी के जनक ग्रेगरी जॉन मेंडल को जाता है|
जॉन मेंडल ने अपने प्रयोग के लिए मटर के पौधे का चयन किया था|
अनुवांशिकता के विज्ञान को अनुवांशिकी कहा जाता है यह W वाटसन ने कहा था|
अनुवांशिकी उत्परिवर्तन होता है क्रोमोसोम में|
सर्वप्रथम ‘जीन’ शब्द का प्रयोग जोहानसन ने किया|
जीन गुणसूत्रों में अवस्थित होते हैं|
एक जीन एक एंजाइम का सिद्धांत बीटल एवं टैटम ने दिया था|
खून का रंग लाल हिमोग्लोबिन के कारण होता है|
शरीर के अंदर रक्त को जमने से हिपेरिन नामक प्रोटीन रोकता है|
हिपेरिन नामक प्रोटीन यकृत द्वारा उत्पन्न होता है|
रक्त का अध्ययन हेमाटोलॉजि कहलाता है|
रक्त का थक्का बनने में प्लेटलेटस सहायक होते हैं|
| हिमोग्लोबिन में पाए जाने वाला तत्व लोहा है|
हिमोग्लोबिन प्रोटीन का योगिक है|
प्लेटलेटस की मृत्यु प्लीहा में होती है|
रक्त का थक्का जमने में सहायक विटामिन K होता है|
रुधिर का तरल भाग प्लाज्मा कहलाता है|
रक्त का 60% भाग प्लाज्मा होता है|
पदार्थ की चतुर्थ अवस्था प्लाज्मा अवस्था है|
ब्लड बैंक प्लीहा कहलाता है|
RBC का कब्रगाह प्लीहा है|
ब्लड बैंक में रक्त को 40 डिग्री फारेनहाइट पर सुरक्षित रख रखा जाता है|
A,B.AB,O यह रक्त समूह है|
लैंडस्टीनर ने रक्त समूह की खोज की थी|
सर्व दाता रक्त समूह O है|
सर्वग्राही रक्त समूह AB है|
RH फैक्टर रक्त से संबंधित है|
RH ट्रैक्टर की खोज लैंडस्टीनर एवं विनर ने किया था|
एड्रिनल ग्रंथि से रक्त चाप नियंत्रित होता है|
किडनी रक्त को शुद्ध करता है|
रक्त के शुद्धिकरण की प्रक्रिया डायलेसिस कहलाती है|
मूत्र का निर्माण किडनी में होता है|
किडनी का भार 150 ग्राम होता है|
किडनी में बनने वाली पथरी कैल्शियम ओक्जेलेट का होता है|
रक्त का PH मान 7.4 होता है|
रक्तदाब मापने वाला यंत्र स्फिग्मोमैनोमीटर होता है|
सर्वप्रथम भड़क परिसंचरण तंत्र का अध्ययन विलियम हार्वे ने किया|
शरीर से हृदय की ओर रक्त ले जाने वाली रक्तवाहिनी शिरा कहलाती है|
कैसे शरीर की ओर रक्त ले जाने वाली रक्तवाहिनी धमनी कहलाती है|
हृदय की धड़कन को पेसमेकर नियंत्रित करता है|
जराविक-7 कृतिम हृदय है|
पित का पी एच मान 7.7 होता है|
पीत यकृत द्वारा स्त्रावित होती है|
यकृत (लीवर) इसके लिए भंडारित विटामिन-A रहता है|
पीत पित्ताशय में जमा होता है|
हाइड्रोफोबिया कुत्ते के काटने से होने वाला रोग है|
हाइड्रोफोबिया रोग विषाणु द्वारा होता है|
विषाणु की खोज इवानोवस्की की ने की थी|
विषाणु का अध्ययन वायरोलॉजी कहलाता है|
जंतुओं में होने वाले फूड एंड माउथ रोग विषाणु के कारण होता है|
कवको का अध्ययन माइकोलॉजी कहलाता है|
शैवालों का अध्ययन
* जीव तथा जंतु का जनक अरस्तु को कहा जाता है|
* जीव विज्ञान शब्द का प्रयो सर्वप्रथम लैमार्क एवं ट्रेवीरेनस ने किया|
* जैव विकास को सर्वप्रथम लैमार्क ने समझाया था|
चिकित्सा शास्त्र का जनक हिप्पोक्रेटस ने किया था|
वनस्पति विज्ञान का जनक थियोफ्रेस्टस ने किया था|
रसायन विज्ञान का जनक लेविजियार ने किया था|
मानव का विकास, इतिहास, परंपराओं से संबंधित विषय एंथ्रोपोलॉजी कहलाता है|
गैस के विसरण के नियम का प्रतिपादक ग्राहम थे|
गेम का प्रतिपादन जॉन केपलर ने किया था|
जड़त्व के नियम की खोज गैलेलियो ने किया|
गुरुत्वाकर्षण के नियम के प्रतिपादक न्यूटन थे|
प्राकृतिक वरण सिद्धांत के प्रतिपादक डार्विन थे|
नेचुरल सिलेक्शन का सिद्धांत डार्विन ने दिया था|
अनुवांशिकी के जनक ग्रेगरी जॉन मेंडल को जाता है|
जॉन मेंडल ने अपने प्रयोग के लिए मटर के पौधे का चयन किया था|
अनुवांशिकता के विज्ञान को अनुवांशिकी कहा जाता है यह W वाटसन ने कहा था|
अनुवांशिकी उत्परिवर्तन होता है क्रोमोसोम में|
सर्वप्रथम ‘जीन’ शब्द का प्रयोग जोहानसन ने किया|
जीन गुणसूत्रों में अवस्थित होते हैं|
एक जीन एक एंजाइम का सिद्धांत बीटल एवं टैटम ने दिया था|
खून का रंग लाल हिमोग्लोबिन के कारण होता है|
शरीर के अंदर रक्त को जमने से हिपेरिन नामक प्रोटीन रोकता है|
हिपेरिन नामक प्रोटीन यकृत द्वारा उत्पन्न होता है|
रक्त का अध्ययन हेमाटोलॉजि कहलाता है|
रक्त का थक्का बनने में प्लेटलेटस सहायक होते हैं|
| हिमोग्लोबिन में पाए जाने वाला तत्व लोहा है|
हिमोग्लोबिन प्रोटीन का योगिक है|
प्लेटलेटस की मृत्यु प्लीहा में होती है|
रक्त का थक्का जमने में सहायक विटामिन K होता है|
रुधिर का तरल भाग प्लाज्मा कहलाता है|
रक्त का 60% भाग प्लाज्मा होता है|
पदार्थ की चतुर्थ अवस्था प्लाज्मा अवस्था है|
ब्लड बैंक प्लीहा कहलाता है|
RBC का कब्रगाह प्लीहा है|
ब्लड बैंक में रक्त को 40 डिग्री फारेनहाइट पर सुरक्षित रख रखा जाता है|
A,B.AB,O यह रक्त समूह है|
लैंडस्टीनर ने रक्त समूह की खोज की थी|
सर्व दाता रक्त समूह O है|
सर्वग्राही रक्त समूह AB है|
RH फैक्टर रक्त से संबंधित है|
RH ट्रैक्टर की खोज लैंडस्टीनर एवं विनर ने किया था|
एड्रिनल ग्रंथि से रक्त चाप नियंत्रित होता है|
किडनी रक्त को शुद्ध करता है|
रक्त के शुद्धिकरण की प्रक्रिया डायलेसिस कहलाती है|
मूत्र का निर्माण किडनी में होता है|
किडनी का भार 150 ग्राम होता है|
किडनी में बनने वाली पथरी कैल्शियम ओक्जेलेट का होता है|
रक्त का PH मान 7.4 होता है|
रक्तदाब मापने वाला यंत्र स्फिग्मोमैनोमीटर होता है|
सर्वप्रथम भड़क परिसंचरण तंत्र का अध्ययन विलियम हार्वे ने किया|
शरीर से हृदय की ओर रक्त ले जाने वाली रक्तवाहिनी शिरा कहलाती है|
कैसे शरीर की ओर रक्त ले जाने वाली रक्तवाहिनी धमनी कहलाती है|
हृदय की धड़कन को पेसमेकर नियंत्रित करता है|
जराविक-7 कृतिम हृदय है|
पित का पी एच मान 7.7 होता है|
पीत यकृत द्वारा स्त्रावित होती है|
यकृत (लीवर) इसके लिए भंडारित विटामिन-A रहता है|
पीत पित्ताशय में जमा होता है|
हाइड्रोफोबिया कुत्ते के काटने से होने वाला रोग है|
हाइड्रोफोबिया रोग विषाणु द्वारा होता है|
विषाणु की खोज इवानोवस्की की ने की थी|
विषाणु का अध्ययन वायरोलॉजी कहलाता है|
जंतुओं में होने वाले फूड एंड माउथ रोग विषाणु के कारण होता है|
कवको का अध्ययन माइकोलॉजी कहलाता है|
शैवालों का अध्ययन

 

2,029 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *